15 सबसे बड़े SBI क्रेडिट कार्ड के नुकसान क्या हैं?

क्रेडिट कार्ड आजके समय में बहुत सारे लोग इस्तेमाल करते हैं अपनी ज़रूरतों को पूरा करने के लिए या शौपिंग करने के लिए, आदि। क्रेडिट कार्ड के फायदे क्या हैं, ये आपको हर कोई बताएगा। आज हम आपको एसबीआई क्रेडिट कार्ड के नुकसान बताने वाले हैं, जिनके बारे में जानना जरूरी है अगर आप एक एसबीआई क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करना चाहते हैं।

एसबीआई क्रेडिट कार्ड क्या होता है?

आपने डेबिट कार्ड का इस्तेमाल किया होगा, इसी तरह एसबीआई क्रेडिट कार्ड भी होता है जो दिखने में डेबिट कार्ड की तरह होता है, लेकिन दोनों में बहुत फर्क है. एसबीआई क्रेडिट कार्ड को पैसे भेजने के लिए या खरीदारी करने के लिए इस्तेमाल होता है. क्रेडिट कार्ड से हम उन पैसों का इस्तेमाल कर सकते हैं जो हमारे नहीं होते हैं, बैंक के होते हैं, उधार की तरह पैसों का इस्तेमाल होता है और समय से पहले इसे चुकाना होता है.

लोग कितना पैसा खर्चा कर सकते हैं, उसकी एक लिमिट होती है हर क्रेडिट कार्ड में. एसबीआई क्रेडिट कार्ड से महीने भर खर्चा करने के बाद महीने के आखिर में पैसे चुकाने होते हैं. अगर आप एसबीआई क्रेडिट कार्ड लेने के बाद और खर्चा करने के बाद समय से पहले पैसे नहीं चुकाते हैं तो आपको उन पैसों पर इंटरेस्ट देना होगा. यह इंटरेस्ट 2% से 3% अमाउंट हो सकता है.

इसलिए क्रेडिट कार्ड को ज़िम्मेदारी से इस्तेमाल करना ज़रूरी है, वरना आपको फाइनेंसियल दिक्कत हो सकती है. क्रेडिट कार्ड में 2.5 लाख या 3 लाख की लिमिट होती है. इसके अलावा बुकिंग, शौपिंग और बिलिंग करने पर कुछ रिवॉर्ड भी मिलते हैं.

एसबीआई क्रेडिट कार्ड के प्रकार?

एसबीआई क्रेडिट कार्ड के प्रकार

कस्टमर की लाइफस्टाइल के हिसाब से अलग-अलग एसबीआई क्रेडिट कार्ड के प्रकार होते है, उनमे से कुछ प्रसिद्ध क्रेडिट कार्ड्स है:

● एसबीआई कार्ड इलीट.

● एसबीआई कार्ड प्राइम.

●सिम्पलीसेव एसबीआई कार्ड.

● सिम्पली क्लिक एसबीआई क्रेडिट कार्ड.

● BPCL एसबीआई क्रेडिट कार्ड.

● IRCTC एसबीआई कार्ड.

15 सबसे बड़े SBI क्रेडिट कार्ड के नुकसान क्या है?

1. ज्यादा खर्च करने की आदत लगेगी।

ज्यादा खर्च करने की आदत लगेगी।

बिना महनेत करे आपको क्रेडिट कार्ड से पैसे मिलते है कभी भी और कहीं भी इस वजह से ज़रूरत से जियादा खर्चा करने की आदत लग जाती है ये एक बड़ा नुक्सान हो सकता है क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने का. क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने वाले लोग पैसों को अपना समजकर खर्चा करते रहते है उन्हें ये जानना होगा के वह पैसे लोन है आपको उसे लौटाना है.

2. ज्यादा ब्याज/इंटरेस्ट देना।

एसबीआई क्रेडिट कार्ड को इस्तेमाल करने पर इंटरेस्ट बहुत लगता है जैसे एटीएम से कैश निकालने पर या बकाया राशि न चुकाने पर आपको पुरे साल में 40% से ऊपर ब्याज चुकाना पड़ सकता है. बकाया राशि पर आपसे 3-4% हर महिना ब्याज काटा जाता है. इसके अलावा बहुत तरह के चार्जेज भी एसबीआई क्रेडिट कार्ड में काटे जाते है.

3. लोग क़र्ज़ के दलदल में फसते हैं।

एसबीआई क्रेडिट कार्ड में एक सुविधा होती है जिससे एक क्रेडिट कार्ड से दुसरे क्रेडिट कार्ड की बकाया राशि को चुकाया जा सकता है. इस सुविधा से लोगों पर बुरा असर भी पड़ता है जैसे कुछ लोग एक क्रेडिट कार्ड से दुसरे क्रेडिट की बकाया राशि को चुकाते है, वह दोनों क्रेडिट कार्ड से पैसे खर्च करते है और दोनों बकाया राशि को पर ब्याज भी चुकाना होता है. इन क्रेडिट कार्ड का बकाया राशि चुकाने के लिए तीसरे क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करते है या फिर दूसरों से लोन लेते है या उधार पैसे लेते है. इस तरह उनपर हर जगह से क़र्ज़ बढ़ता जाता है और वह क़र्ज़ के दल दल में फसते है.

4. वार्षिक शुल्क चुकाना।

एसबीआई क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने वाले को हर साल फीस देनी होती है (annual fee) ये फीस 499 से ₹12 हज़ार तक हो सकती है और जोइनिंग फीस भी 499 होती है. एसबीआई में सिर्फ़ कुछ ही क्रेडिट कार्ड्स है जिसमे वार्षिक शुल्क देने की ज़रूरत नहीं पड़ती है बाकी सब में देनी पड़ती है. अगर आप वार्षिक शुल्क चुकाना नहीं चाहते है तो आपको अपने क्रेडिट कार्ड से निक्षित राशि की transaction करनी होगी यानी आपको अपने क्रेडिट कार्ड से खर्चा करना होगा.

5. क्रेडिट स्कोर खराब हो सकता है।

क्रेडिट स्कोर खराब हो सकता है।

एसबीआई क्रेडिट कार्ड आपके क्रेडिट स्कोर को खराब करने की क्षमता रखता है, अगर आप अपने क्रेडिट पेमेंट को समय से पहले भुगतान नहीं करते है तो ये आपके क्रेडिट फाइल में रिकॉर्ड होता है और आगे जाकर क्रेडिट स्कोर पर नेगेटिव असर डालता है. एसबीआई क्रेडिट कार्ड में वक़्त पर पैसे नहीं चुकाया गया और सिर्फ मिनिमम बकाया चुकाते है या क्रेडिट कार्ड लिमिट से 30% जियादा इस्तेमाल करते है तो क्रेडिट स्कोर पर बुरा असर होता है. खराब क्रेडिट स्कोर की वजह से भविष में लोन पाने में दिक्कत आ सकती है.

6. क्रेडिट कार्ड खोने पर नुक्सान।

क्रेडिट कार्ड चोरी होने पर या गुमजाने पर आपको नुक्सान हो सकता है, कियोंकि आपके क्रेडिट कार्ड से पैसे निकालें गये तो ये आपको भरने पड़ेंगे. क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने वालों के साथ ये फ्रॉड अक्सर ‘कांटेक्ट लेस’ फीचर इस्तेमाल करने पर होता है. इस फीचर को चालू करते है फिर आपका क्रेडिट कार्ड चोरी हो जाता है तो ‘टेप एंड पे’ पर क्लिक करके पैसे निकाले जा सकते है. इस फीचर में पिन डालने की ज़रूरत नहीं पड़ती POS मशीन से क्रेडिट कार्ड को स्वाइप करने पर पैसे कटते है.

7. चुप्पे हुए चार्जेस (Hidden charges)

अक्सर ऐसा होता है के आपको अपने क्रेडिट कार्ड से जुड़े कुछ छुपे हुए चार्जेज के बारेमे पता नहीं होता है या आपको बैंक दुआरा बताया नहीं जाता है लेकिन वो चार्जेज देने ही पड़ते है. एसबीआई के कुछ हिडन चार्जेज जिसके बारेमे बैंक दुआरा सीधे नहीं बताया जाता है, वो हैं:

1. बकाया राशि (outstanding balance) को अगर आप चेक के ज़रिये चुकाते है तो आपसे ₹100 अलग से काटे जाते है.
2. 10 हज़ार से जियादा बकाया राशि होती है तो आपसे ₹950 अलग से काटे जाते है.
3. बैंक जाकर फॉर्म की मदद से बकाया राशि चुकाते है तो आपसे ₹199 अलग से काटे जाते है.

8. जीरो सेविंग होगी।

एसबीआई क्रेडिट कार्ड के नुकसानों में सबसे बड़ा नुक्सान ये भी है के आपकी सेविंग बुरा असर पड़ता है. अगर आप क्रेडिट कार्ड को अच्छा ख़ासा इस्तेमाल करते है तो हर महीने आपको पैसे चुकाने होते है, इस तरह आपको पैसों की बचत करने का ख़याल ही नहीं आएगा. सैलरी का अच्छा खासा हिस्सा क्रेडिट कार्ड की outstanding balance को चुकाने में लग जायेगा. सैलरी आने पर क्रेडिट कार्ड की outstanding balance पेमेंट करना और बाकी के पैसों से महिना काटना और फिर पैसों की ज़रूरत आने पर क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करना ये सर्किल इसी तरह चलता रहेगा और आप सेविंग करना भूल जायेंगे.

9. टर्म्स और कंडीशन को ना समजना।

आम लोगों के लिए एसबीआई क्रेडिट कार्ड के टर्म्स और कंडीशन समजना थोडा मुश्किल है. हमारे देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक होने की वजह से टर्म्स और कंडीशन को जटिल भाषा में लिखा जाता है. किसी भी नागरिक को एसबीआई क्रेडिट कार्ड की टर्म्स और कंडीशन समजने के लिए बेसिक चीजों को जानना ज़रूरी है.

10. खराब कस्टमर केयर सेवा।

खराब कस्टमर केयर सेवा।

दुसरे क्रेडिट कार्ड्स के मुकाबले एसबीआई क्रेडिट कार्ड की कस्टमर केयर सर्विस की हालत बहुत खराब है. क्रेडिट कार्ड से जुडी कोई शिकायत करने के लिए, फ्रॉड होने पर या एसबीआई क्रेडिट कार्ड बंद करने के लिए आपको बहुत सारी मशक्कत करनी पड़ सकती है. फिलहाल एसबीआई कस्टमर केयर सर्विस बहुत बेकार है.

11. लेट फीस चुकानी पड़ेगी।

अगर आप क्रेडिट कार्ड की outstanding balance को वक़्त से पहले नहीं भरते है तो आपसे लेट फीस काटी जाती है. क्रेडिट कार्ड बकाया की आखरी तरीक की जानकारी एसबीआई आपको नहीं बताता है. अक्सर एसबीआई क्रेडिट कार्डधारक समय पे बकाया राशि नहीं भरते और उन्हें लेट फीस देनी पड़ती है. इसतरह से अलग अलग कारणों से आपसे चार्जेज काटे जाते है.

12. नकद पैसे निकालने की लिमिट।

एसबिअई क्रेडिट कार्ड से आप देश या विदेश में एटीएम से नकद पैसे निकाल सकते है. लेकिन इसमें लिमिट होती है, आप अपने क्रेडिट कार्ड लिमिट के कुछ प्रतिशत हिस्से को ही एटीएम से विथ्द्रव कर सकते है. यानि एसबीआई क्रेडिट कार्ड पर एटीएम से पैसे निकालने पर लिमिट होती है.

13. नगद एटीएम से पैसे निकालने पर चार्जेज।

अगर आप एसबीआई क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करके एटीएम से नगद पैसे निकालते है तो चार्जेज देने होते है. ये चार्जेज नगद राशि का 2.5% या ₹500 (जो भी जियादा होगा) काटा जायेगा.

14. ओवरलिमिट फीस (Overlimit Fees)

एसबीआई क्रेडिट कार्ड में लिमिट से ज्यादा पैसे खर्च कर सकते है लेकिन इस फीचर को इस्तेमाल करने के लिए आपको फीस देनी होती है, ‘ओवरलिमिट’ फीस 2.5% या ₹600 जो भी ज्यादा होगी काटी जाएगी. यानि आप लिमिट से जियादा खर्च करते है तो फीस देनी पड़ती है.

15. न्यूनतम बकाया राशि।

एसबीआई कार्डधारक अगर महीने की पूरी क्रेडिट कार्ड पेमेंट नहीं कर सकते तो वह मिनिमम क्रेडिट कार्ड बकाया राशि भर सकते है ताके उनकी क्रेडिट कार्ड की सुविधा चलती रहे. अपने एसबीआई क्रेडिट कार्ड सुविधा को बनाये रखने के लिए न्यूनतम बकाया राशि को देना होता है. अगर क्रेडिट कार्ड होल्डर इसी तरह हर महिना करते रहे तो बाकी की बकाया राशि जमा होती रहेगी, जिसे आगे जाकर भरना होगा इसपर ब्याज भी लगता है. इससे आप क़र्ज़ के जाल में फसते है.

16. पेमेंट डिसओनर फीस (Payment Dishonor Fees)

पेमेंट डिसओनर फीस (Payment Dishonor Fees)

पेमेंट डिसओनोर फीस का मतलब अगर किसी को नहीं पता है ये एक तरह का चार्ज है जो बैंक क्रेडिट कार्ड होल्डर से काटता है, अगर उसके क्रेडिट कार्ड में उतने पैसे नहीं होते है जितने बैंक काटना चाहता है. क्रेडिट कार्ड में परियाप्त राशि ना होने के कारण transaction फैल होजाता तो इसकी वजह से 2% या ₹500 (जो भी ज्यादा हो) पेमेंट डिसओनोर फीस काटी जाती है.

AD
SBI Card Logo

SBI IRCTC Credit Card

Unlock Exclusive Benefits!

Apply Now & Get 350 Activation Bonus Points*

Apply Now

*Terms & conditions apply. Limited time offer.

SBI क्रेडिट कार्ड पर कितना चार्ज लगता है?

एसबीआई क्रेडिट कार्ड पर कितना चार्ज लगेगा ये क्रेडिट कार्ड के प्रकार और क्रेडिट स्कोर जैसे फैक्टर पर डिपेंड करता है:

● जोइनिंग फीस: एसबीआई सिम्पली क्लिक क्रेडिट कार्ड की जोइनिंग फीस है ₹499 और एसबीआई कार्ड प्राइम की जोइनिंग फीस है ₹2,999.

● वार्षिक चार्ज: एसबीआई सिम्पली क्लिक क्रेडिट कार्ड की वार्षिक फीस है ₹499 और एसबीआई कार्ड प्राइम की वार्षिक फीस है ₹2,999.

● एटीएम से कैश निकालने पर शुल्क: एटीएम से नगद कैश निकाले जाने पर हर लेन-देन पर ₹500 चार्ज लगया जाता है.

●लेट पेमेंट फीस: क्रेडिट कार्ड का बकाया अगर समय पर नहीं करते है तो ₹30 से ₹50 प्रति दिन काटे जाते है.

● देर होने पर बकाया शुल्क: अगर क्रेडिट कार्डहोल्डर अपने क्रेडिट कार्ड का भुगतान नहीं करता है तो उसपर 18 से 24% प्रति वर्ष के हिसाब से चार्ज लगाया जाता है.

एस. बी. आई. क्रेडिट कार्ड limit?

एसबीआई क्रेडिट कार्ड की लिमिट अलग अलग फैक्टर पर निर्भर है जैसे इनकम, उम्र, liabilities, क्रेडिट स्कोर, और एम्प्लॉयमेंट स्टेटस. उधारण के लिए अगर आपकी नेट इनकम 30 हज़ार है और क्रेडिट स्कोर 750 या इससे से जियादा तो आपको क्रेडिट लिमिट 4.5 लाख तक मिल साक्ति है.

SBI क्रेडिट कार्ड कैसे बंद करें?

SBI क्रेडिट कार्ड कैसे बंद करें

एसबीआई क्रेडिट कार्ड बंद या क्लोज करने के कुछ रास्ते:

हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके: एसबीआई क्रेडिट कार्ड होल्डर जिनको अपना क्रेडिट कार्ड अकाउंट बंद करवाना है वह इन टूल-फ्री नंबर कॉल कर सकते है, ,1860-180-1290, or 39-02-02-02.

क्रेडिट कार्ड क्लोज करने के लिए लिखकर रिक्वेस्ट भेजे: आप SBI को लिखकर क्रेडिट कार्ड बंद करने की रिक्वेस्ट कर सकते है, इस एड्रेस पर भेजे, ‘SBI Card, PO- Bag 28, GPO, New Delhi-110001.’ इसमें आपको अपना नाम, एड्रेस, कार्ड नंबर, और कांटेक्ट डिटेल की जानकारी डालनी होगी. कोई भी गोपनीय जानकारी जैसे CVV और पिन न लिखे.

बैंक के ऑफिसियल ईमेल ID: पर ईमेल भेजकर भी एसबीआई क्रेडिट कार्ड बंद कर सकते है.

एसबीआई क्रेडिट कार्ड बंद या कैंसिल करने से पहले इन बातों का ध्यान रखे:

  • ये सुनिक्षित करें के आपने सारे बकाया राशि को पे किया हो.
  • अगर आपके क्रेडिट कार्ड की outstanding balance बाकी है तो आपका कैंसलेशन प्रोसेस शुरू ही नहीं होगा.
  • कोई भी पेंडिंग अमाउंट नहीं होना चाहिए.
  • एसबीआई के गुइडलाइन के मुताबिक क्रेडिट कार्ड कैंसिल और क्लोज करने के प्रोसेस को शुरू करने से पहले outstanding balance और सारे EMIs को सेटल करना होगा.
  • कैंसलेशन करने से कुछ वक़्त पहले ही कार्ड का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए.

SBI क्रेडिट कार्ड के नियम एवं शर्तें?

SBI क्रेडिट कार्ड के नियम एवं शर्तें

★ एसबीआई क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करने से पहले इससे जुडी हर फीस/चार्जेज के बारेमे जानें.

★ब्याज कितना होगा समय पर भुगतान न करने पर, इंटरेस्ट से जुडी साड़ी चीजें पता करें.

★क्रेडिट कार्ड लिमिट कितनि है, आपक कितना पैसा खर्च कर सकते है जाने.

★ मिनिमम अमाउंट due (MAD) कितना है जानें, क्रेडिट कार्ड को चालू रखने के लिए कम से कम ये अमाउंट पे करना होता है.

★ हर महीने के अपने क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट पर ध्यान देते रहे. क्या खर्च किया, कितना किया, कहां किया, आदि.

★ लेट फीस और ब्याज से बचने के लिए समय पर भुगतान करें, अपने क्रेडिट साइकिल को समझे.

★ रिवॉर्ड और कैशबैक से लाभ उठायें.

★ वार्षिक शुल्क के बारेमे जानकारी हासिल करें और अच्छा क्रेडिट कार्ड स्कोर बिल्ड करें.

SBI क्रेडिट कार्ड कितना सुरक्षित है?

दुसरे क्रेडिट कार्ड के मुकाबले मे एसबीआई क्रेडिट कार्ड कम सुरक्षित है. क्रेडिट कार्ड खोजने पर कोई भी बिना पिन के क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल कर सकता है.

एसबीआई का सबसे अच्छा क्रेडिट कार्ड कौनसा हैं?

एसबीआई अपने कस्टमर के लिए अलग अलग तरह के क्रेडिट कार्ड देता है. आपके लिए कौनसा क्रेडिट कार्ड अच्छा है, अच्छा है भी या नहीं ये आपके फाइनेंसियल ज़रूरत, खर्चों पर डिपेंड है. एसबीआई के क्रेडिट कार्ड्स के बारे मे SBI की ऑफिसियल वेबसाइट से जानें.

बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड के नुकसान?

बजाज फिनसर्व ईएमआई कार्ड के नुकसान है:

  • हाई इंटरेस्ट रेट होते है.
  • प्रोसेसिंग फीस होती है.
  • हर साल देने होते है चार्जेज.
  • चुपेहुए चार्जेज हो सकते है.
  • लेट फीस.
  • पेनल्टी फीस.

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल सहीं से कैसे करें?

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल सहीं से कैसे करें

● अपने क्रेडिट कार्ड से जुड़े सारे टर्म्स और कंडीशन को पढ़े और समझे.

● हर दिन अपने क्रेडिट कार्ड से खरीदारी करना अनदेखा करें.

● उतना खर्चा ना करें जिसको आप वापस चुका नहीं सकते.

● इमरजेंसी के लिए हमेशा अपने क्रेडिट लिमिट को कम से कम 40% रखे.

● हमेशा अपन क्रेडिट लिमिट को चेक करते रहे और 40% से जियादा अवेलेबल क्रेडिट लिमिट को खर्च करने के बाद इस्तेमाल कम करें.

● पड़े चीजें खरीदने पर EMI आप्शन को चुनें ताके outstanding कार्ड अमाउंट पर इंटरेस्ट देने से बचे.

● बिना सोचे हर चीज़ खरीदने के लिए क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल न करें, अपने purchases को प्लान करे.

● कभी भी अपनी कार्ड पेमेंट को ना भूलें वरना आपको जियादा चार्जेज और पेनल्टी देनी पड़ेगी.

● अगर आप जियादा खर्च करदेते है तो बैंक से कांटेक्ट करे.

सबसे बड़े SBI क्रेडिट कार्ड के नुकसान क्या हैं

FAQ

एसबीआई क्रेडिट कार्ड पर कितना चार्ज लगता है?

एसबीआई क्रेडिट कार्ड पर कितना चार्ज लगेगा ये कार्ड टाइप, और आपके खर्चों पर डिपेंड है.

क्या क्रेडिट कार्ड एक अच्छी चीज़ है?

अगर आपको ज़रूरत नहीं है तो बिलकुल मातलें, अगर आप इसे ज़िम्मेदारी से इस्तेमाल करते है तो आप इससे अपना लाभ कर सकते है. अगर आप क्रेडिट कार्ड को इस्तेमाल करना चाहते है तो अपने ज़रूरत और खर्चों को जानें उसके मुताबिक क्रेडिट कार्ड चुनें और ज़िम्मेदारी से इस्तेमाल कर सकते है.

क्या क्रेडिट कार्ड लेना अच्छा है?

क्रेडिट कार्ड लेना अच्छा उनके लिए है जो इसे ज़िम्मेदारी से इस्तेमाल करते है सारे टर्म्स और कंडीशन को समजकर उनका पालन करते है. क्रेडिट कार्ड से जुड़े हर चार्जेज को जानें.

क्रेडिट कार्ड की लिमिट क्या होती है?

एक क्रेडिट कार्ड की लिमिट ₹10,00 से ₹5 लाख के बीच होती है. ये कम और जियादा की जा सकती है बैंक के दुआरा. इसकी एलिगिबिलिटी में अच्छी इनकम, अच्छा क्रेडिट स्कोर, रेगुलर खरीदारी, आदि शामिल है.

क्रेडिट कार्ड का बिल कैसे पे करते हैं?

क्रेडिट कार्ड का बिल भरने के लिए आप फोनपे, गूगल पे और भीम जैसे ऐप का इस्तेमाल कर सकते है. इसके अलावा नेट बैंकिंग, ऑटो डेबिट फैसिलिटी, एटीएम, बैंक ब्रांच जाकर भी क्रेडिट कार्ड बिल पे कर सकते है.

क्रेडिट कार्ड कितने साल तक वैलिड होता है?

क्रेडिट कार्ड अक्सर 3 से 4 साल के लिए वैलिड होते है.

क्रेडिट कार्ड का पैसा कितने दिन में जमा करना होता है?

बिल गनेरेट होने के 15 से 25 दिन के अन्दर भरना होता है. इंटरेस्ट चार्जेज से बचने के लिए इंटरेस्ट-फ्री वक़्त से पहले आपको पूरा बिल भरना होता है.

एचडीएफसी क्रेडिट कार्ड से कैश निकालने का चार्ज?

अगर आप एचडीऍफ़सी क्रेडिट कार्ड से कॅश पैसे निकालते है तो आपसे 2.5% या ₹500 जो भी जियादा होगा काट लिया जायेगा. यानि अगर आप ₹50,000 निकालते है तो आपको ₹1,250 चार्ज कटेगी.

एसबीआई क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं?

एसबीआई कार्ड कस्टमर के लिए 70 से ज्यादा क्रेडिट कार्ड्स ऑफर करता है. इन कार्ड्स को चार केटेगरी में बाटा जाता है जैसे लाइफस्टाइल क्रेडिट कार्ड्स, शौपिंग क्रेडिट कार्ड्स, रिवार्ड्स क्रेडिट कार्ड्स, ट्रेवल और फ्यूल क्रेडिट कार्ड्स.

मुझे क्रेडिट कार्ड पर लोन लेना चाहिए या फिर क्रेडिट कार्ड EMI सुविधा का इस्तेमाल करना चाहिए?

पर्सनल लोन के मुकाबले EMI से पे करना सस्ता होता है.

क्या क्रेडिट कार्ड का असर क्रेडिट स्कोर पर पड़ता है?

हां, आपके क्रेडिट कार्ड से क्रेडिट स्कोर पर अच्छा खासा असर पड़ता है, अगर आप क्रेडिट कार्ड बिल को समय पर पे करते है तो क्रेडिट कार्ड अच्छा रहेगा और अगर डेडलाइन के बाद क्रेडिट कार्ड बिल पे करते है इसका नेगेटिव असर क्रेडिट स्कोर पर पड़ेगा.

क्या मै क्रेडिट कार्ड से पैसे withdraw कर सकता हूँ?

बिलकुल आप क्रेडिट कार्ड से कैश निकाल सकते है लेकिन इसके लिए आपको चार्जेज देने पड़ते है.

ये भी पढ़े:

2.5/5 - (2 votes)

Leave a Comment