Step-by-Step: Teacher kaise bane Full Guide?

इंडिया मे टीचर का पद ज़िम्मेदारी से भरा और बहुत सम्मानीय होता है, कियोंकि बच्चो का फ्यूचर माँ बाप के बाद टीचर के हाथ मे होता है, हर रोज़ लाख से जियादा लोग टीचर बन्ने के लिए अप्लाई करते है, सरकारी टीचर बन्ने के फायदे भि है,

आज हम Sarkari Teacher kaise bane, Primary teacher kaise bane, हाई स्कूल टीचर कैसे बने, 12वीं के बाद टीचर कैसे बने, साइंस टीचर कैसे बने, कंप्यूटर टीचर कैसे बने, प्रोफेसर कैसे बने, केंद्रीय विद्यालय में टीचर कैसे बने, एग्जाम, कोर्स, सैलरी और सभ कुछ जाने चलिए इन सारे सवालों का जवाब देखते है.

12वीं के बाद टीचर कैसे बने?

Step1: जिस सब्जेक्ट मे आपका इंटरेस्ट है वहीँ सब्जेक्ट बच्चो को पढ़ा सकते है इसलिए 10वीं और 12वीं मे उसी सब्जेक्ट का चुनाव करे और 12वीं अच्छे मार्कस से पास करे.

Step2: उदाहरण के तौर पर अगर आपको मैथ मे इंटरेस्ट है और मैथ मे हि पढ़ाना है तो आपको 12वीं मे मैथ सब्जेक्ट मे पढना होगा.

Step3: 12वीं के बाद सरकारी टीचर बन्ने के लिए ग्रेजुएशन करना होगा, ग्रेजुएशन कम्पलीट करने के लिए अपने इंटरेस्ट का सब्जेक्ट होना चाहिए और 50% मार्कस होने चाहिए, सोच समजकर सब्जेक्ट को चुने.

Step4: ग्रेजुएशन को कम्पलीट करने के बाद आपको बी.इडी (B. ED) कोर्स करना होगा, ये कोर्स टीचिंग संबंधित कोर्स है, सरकारी स्कूल मे टीचर बन्ने के लिए ये कोर्स करना होगा, अभ ये कोर्स दो साल का है पहले एक साल का था.

Step5: बी.इडी कोर्स करने के बाद गवर्मेंट एग्जाम देना होगा जिसका नाम है CTET or TET इसका फुल फॉर्म है सेंट्रल टीचिंग एलिजिबिलिटी टेस्ट, इस एग्जाम को क्लियर करने के बाद गवर्नमेंट टीचर बन्ने के लिए अप्लाई करे.

Step6: फिर मेरिट लिस्ट निकलेगी उसमे परसेंटेज के हिसाबसे आपको गवर्नमेंट स्कूल मे टीचर कि पोस्ट मिलेगी, अभ पता चल गया होगा के Sarkari teacher kaise bane, नीचे हर चीज़ डिटेल मे बताई गयी है.

Sarkari teacher kaise bane?

बहुत लोग सरकारी टीचर कि नौकरी करना चाहते है लेकिन हर कोई टीचर नहीं बनसकता/बनसकती, कियोंकि टीचर बन्ने से पहले ये जानना ज़रूरी है के जो सब्जेक्ट पढाना चाहते है क्या उस सब्जेक्ट मे इंटरेस्ट है अगर नहीं तो इंटरेस्ट पैदा करो उस सब्जेक्ट के लिए तभि एक सफल

टीचर बनसकते है, ये जानना भि ज़रूरी है के कौनसी class के बच्चो को पढाना कहते है, अपने इंटरेस्ट का सब्जेक्ट और पढ़ाने के लिए क्लास का चयन करने के हि टीचर बना जा सकता है, चलिए देखते है टीचर बन्ने के लिए पढाई कौनसी करे और टीचर के कौनसे और

कितने प्रकार होते है, एक सरकारी स्कूल टीचर को प्राइवेट स्कूल टीचर से जियादा फायदे है, जैसे छोटी लेने पर सैलरी कट नहीं होती, पंशन और स्वास्थ्य देखभाल और दूसरी सुविधाएँ भि मिलती है, प्राइवेट टीचर के पास नौकरी की सुरक्षा नहीं होती है लेकिन सरकारी टीचर के पास होती है बाकि प्राइवेट टीचर कि जॉब भि बहुत अच्छी है.

टीचर बनने के लिए एग्जाम- CTET Exam or TET Exam

भारत मे प्रोफेसर कैसे बने पूरी जानकारी (Assistant Professor kaise bane)

सीटीईटी एग्जाम सेंट्रल के लिए और टीईटी एग्जाम स्टेट के लिए है, यानि सीटीईटी को पास करने से देश मे कहीं भि सरकारी स्कूल मे टीचर कि भर्ती निकलेंगी तो आप उसके लिए अप्लाई करसकते है,

टीईटी एग्जाम क्लियर करते है तो जिस स्टेट का एग्जाम क्लियर किया है उसी स्टेट से सरकारी स्कूल मे अप्लाई करसकते है, टीईटी एग्जाम जैसे कर्नाटक टीईटी, एमपी टीईटी, राजस्थान टीईटी आदि, इन दोनो मेसे किसी एक एग्जाम को क्लियर करने के बाद सरकारी स्कूल टीचर बन्ने के लिए अप्लाई करसकते है,

अप्लाई करने के बाद मेरिट लिस्ट निकाली जाती है. इसके परसेंटेज के हिसाब से स्कूल मे टीचर कि पोस्ट मिलती है, इन एग्जाम को देने के बाद नौकरी मिले गारेंटी नहीं है.

Exam Eligibility?

  • 12वीं और ग्रेजुएशन मे 50% मार्कस होने चाहिए एग्जाम देने के लिए
  • साथ हि बी.इडी (B. ED) कोर्स का सर्टिफिकेट होना चाहिए,
  • सीटीईटी और टीईटी दोनों मे दो पेपर होते है पेपर 1 और पेपर 2, पेपर 1 के लिए उन्हें तैयार होना है जो किलास 1st से 5th तकके बच्चो को पढ़ाना चाहते है,
  • जो लोग 6th किलास से 10th तकके बच्चो को पढ़ाना चाहते है उन्हें पेपर 2 कि तय्यारी करनी होगी
  • जो लोग 1st किलास से 10th किलास के बच्चो को पढ़ाना चाहते है उन्हें दोनों पेपर कि तय्यारी करनी होगी.

टीचर के प्रकार?

हाई स्कूल और प्राइमरी टीचर कैसे बने-(Teachers kaise bane)

स्कूल मे देखा होगा छोटे और बड़े बच्चो को अलग अलग टीचर पढ़ाते है, टीचर के चार प्रकार है, पहला प्री प्राइमरी टीचर (Pre Primary Teacher) जो नर्सरी, एल.के.जी और यू.के.जी क्लास के बच्चो को पढ़ाते है,

प्री प्राइमरी टीचर बन्ने के लिए 12वीं के बाद डी.इडी (Diploma in Education) कोर्स करना होगा ये दो साल का टीचिंग कोर्स है,जिसको करने के बाद आप प्राइमरी स्कूल मे जॉब करसकते है, इसके बाद मैंन तीन प्रकार आते है जिसमे बहुत लोग अप्लाई करते है, प्राइमरी टीचर जो एक से पांच किलास तक बच्चो को पढ़ाते है,

ट्रेनएड ग्रेजुएट टीचर (Trained Graduate Teacher) जो 6st किलास से 10th किलास तक बच्चो को पढ़ाते है और पोस्ट ग्रेजुएट टीचर जो 11वीं और 12वीं किलास के स्टूडेंट को पढ़ाते है.

Primary teacher kaise bane?

  • प्राइमरी टीचर 1st से 5th किलास के बच्चो को पढ़ाते है,
  • 12वीं मे 50% मार्कस से पास होने के बाद ग्रेजुएशन कम्पलीट करे,
  • ग्रेजुएशन के बाद प्री और प्राइमरी टीचर के लिए टीचिंग ट्रेनिंग कोर्स करे, सीटीईटी और टीईटी एग्जाम देना होगा,
  • फिर ट्रेनिंग के बाद किसी भि प्राइवेट या सरकारी स्कूल मे प्राइमरी टीचर क्र लियर अप्लाई करसकते है.

Trained Graduate Teachers kaise bane?

  • ट्रेनएड ग्रेजुएट टीचर 6th से 10th किलास के बच्चो को पढ़ाते है,
  • बच्चो के हर सीधे और तेडे सवालों का जवाब देने के लिए, इन टीचर्स को बहुत हि ज्ञानी और स्किल्ड होना ज़रूरी है,
  • 12वीं मे 50% मार्क्स के साथ ग्रेजुएशन को कम्पलीट करना होगा, सीटीईटी और टीईटी एग्जाम देना होगा,
  • ग्रेजुएशन के बाद बी.इडी (B. ED) का कोर्स करना होगा.

Post Graduate Teacher kaise bane?

सरकारी टीचर कैसे बने- teachers kaise bane sarkari

  • जैसा के नाम से हि पता चलरहा है, पीजीटी टीचर बनने के लिए ग्रेजुएशन के बात पोस्ट-ग्रेजुएशन भि कम्पलीट करनी होगी,
  • फिर बी.इडी (B. ED) कोर्स भि करना होगा,
  • फिर अपने स्टेट या सेंट्रल एंट्रेंस एग्जाम देकर सीनियर सेकेंडरी हाई स्कूल मे पोस्ट ग्रेजुएट टीचर बनसकते है.

Interview?

सारि कोलिफिकेशन पूरी होने के बाद आपको किसी सरकारी या प्राइवेट स्कूल में अप्लाई करना टीचर कि पोस्ट के लिए, अप्लाई करने पर इंटरव्यू के लिए आपको बुलाया जाता है, इस इंटरव्यू परही निर्भर है के आपको जॉब मिलेगी या नहीं,

इंटरव्यू मे देखा जाता है के जिस सब्जेक्ट मे टीचर बन्ने जारहे है उसमे कैंडिडेट को कितनी महारत हासिल है, कैंडिडेट कि सब्जेक्ट नॉलेज, पढ़ाने कि स्किल और आपका पूरा परफोर्मेंस देखा जाता है, जब उन्हें लगता है के कैंडिडेट स्कूल के लिए ठीक है तभ वो कैंडिडेट को टीचर कि पोस्ट पर नियुक्त करते है.

Salary?

टीचर्स जो जियादा योग्य और जिनके पास बच्चो को पढ़ाने कि सिखाने कि स्किल्स होती है उन्हें आमतौर पर जियादा सैलरी मिलती है, टीचर कि सैलरी इसपर भि निर्भर करती है के टीचर का अनुभव कितना है,

स्कूल कि पालिसी क्या है और टीचर किस पद पर है, सरकारी टीचर के ग्रेड पे, टीए सभ मिलाकर अगर एक अनुमान लगाये तो पुरे देश मे सरकारी प्राइमरी टीचर कि एवरेज सैलरी महीने मे 35 हज़ार से 37 हज़ार के बीच हो सक्ति है,

ट्रेनएड ग्रेजुएट टीचर कि सैलरी 43 हज़ार से 46 हज़ार के बीच हो सक्ति है और पोस्ट ग्रेजुएट टीचर कि 48 हज़ार से 50 हज़ार के बीच हो सक्ति है.

साइंस टीचर कैसे बने?

हाई स्कूल और प्राइमरी टीचर कैसे बने-(Teachers kaise bane)

साइंस टीचर बन्ने के लिए आपको सबसे पहले 10वीं मे साइंस सब्जेक्ट ध्यान देना होगा फिर 11वीं और 12वीं किलास के लिए साइंस स्ट्रीम मे फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ और बायोलॉजी सब्जेक्ट्स होते है, फिजिक्स और केमिस्ट्री कॉमन होते है आपको मैथ और बायोलॉजी मेसे एक चुनना होता है,

आपको कौनसे सब्जेक्ट मे दिल्चस्बी है उस सब्जेक्ट को चुने, अभ आप प्राइमरी साइंस टीचर बन्ने के लिए डिप्लोमा इन एलिमेंटरी एजुकेशन कोर्स करे लेकिन हाई स्कूल मे टीचर बन्ने के लिए ग्रेजुएशन कम्पलीट करना होगा उसी सब्जेक्ट मे.

कंप्यूटर टीचर कैसे बने?

कंप्यूटर टीचर बन्ने के लिए सबसे पहले कंप्यूटर सब्जेक्ट मे अपना ग्रेजुएशन कम्पलीट करे उसके बाद आपको कॉलेज मे पढ़ाने के लिए कंप्यूटर के एग्जाम देने ज़रूरी है,

  • एन.इ.टी (NET) एग्जाम देना होगा अगर आप किसी कॉलेज मे लेकचरार (lecturer)बनना चाहते है तो,
  • किसी स्कूल मे कंप्यूटर टीचर बनकर बच्चो को कंप्यूटर सीखना है तो स्कूल मे कंप्यूटर टीचर बन्ने का क्राइटेरिया पूरा करना होगा या फिर टीचिंग एलिगिबिलिटी टेस्ट देना होगा,
  • इसके लिए आपको यू,जी.सि (UGC) या फिर (CSIR-NET) को पास करके सर्टिफिकेट हासिल करना होगा.

स्कूल प्रिंसिपल कैसे बने?

स्कूल के प्रिंसिपल कि ज़िम्मेदारी बहुत बड़ी होती है कियोंकि उन्हें पुरे स्कूल के स्टूडेंट और टीचर्स को सहीं रास्ता दिखाना होता है, स्कूल का प्रिंसिपल बन्ने के लिए कैंडिडेट के पास एजुकेशनल लीडरशिप या एजुकेशन एडमिनिस्ट्रेशन मे मास्टर्स डिग्री होनी चाहिए वोभी किसी जाने मने कॉलेज या मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से,

ग्रेजुएशन के बाद भि प्रिंसिपल बनसकते है लेकिन पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद हि जियादा सम्भावना होती है प्रिंसिपल बन्ने कि.

प्रोफेसर कैसे बने -profesor teacher kaise bane

प्रोफेसर कैसे बने?

55% मार्कस के साथ मास्टर्स डिग्री होनी चाहिए जिस सब्जेक्ट मे प्रोफेसर बनना चाहते है उसी सब्जेक्ट में, प्रोफेसर तीन तरह के होते है असीसतंत प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर और प्रोफेसर, प्रोफेसर बन्ने के लिए कैंडिडेट को एक ख़ास एग्जाम देना होगा देशभर के लिए (NET)

‘नेशनल एलिगिबिलिटी टेस्ट’ और स्टेट के लिए (SLET) ‘स्टेट लेवल एलिगिबिलिटी टेस्ट’ देना ज़रूरी है, अक्सर ये जून और दिसम्बर मे लिए जाते है, सैलरी कि बात करे तो ये प्रोफेसर के एक्सपीरियंस पर निर्भर है अगर अनुमान लगाये 35 हज़ार से 80 हज़ार प्रति महिना हो सक्ति है,

प्रोफेसर के पास पढ़ाने कि समझाने कि स्किल होनी चाहिए, प्रोफेसर के पास स्टूडेंट के हर मुश्किल का हल होना चाहिए, इस जॉब मे अच्छी सैलरी के इज्ज़त और दूसरी सुविधाएं भि मिलती है, यूनिवर्सिटी मे प्रोफेसर बन्ने के लिए पीएचडी (P.hd) डिग्री ज़रूरी है इंडिया मे.

People Also Ask

  • 1. Teacher vacancies कब अति है?

    भर्तियाँ कब निकलेंगी ये तो कोई नहीं बता सकता कियोंकि प्राइवेट स्कूल या कॉलेज मे वेबसाइट पर या वहा जाकर पता लगाना पड़ता है सरकारी टीचर कि भर्तियां स्टेट गवर्नमेंट निकलति है जब स्टेट मे स्कूल या कॉलेज बनाये हो या स्टेट मे कहीं भि टीचर कि कमी होतो हजारो कि भर्तियां निकलती है बस आपको उन भारतीयों के लिए अप्लाई करना, जिस कैंडिडेट के जियादा मार्कस आएंगे उन्हें टीचर बन्ने के लिए नियुक्त किया जाता है, इस तरह सरकारी स्कूल मे नौकरी मिलती है.

  • 2. केंद्रीय विद्यालय में टीचर कैसे बने?

    12वीं के बाद ग्रेजुएशन उसी सब्जेक्ट से कम्पलीट करना होगा, ग्रेजुएशन मे 50% मार्कस होने चाहिए फिर आपको B. ED कोर्स करना होगा ये एक टीचिंग कोर्स है जो पहले एक साल का था दो साल का होचुका है, इस कोर्स का सर्टिफिकेट मिलने के बाद सीटीईटी
    CTET एग्जाम दे इसका फुल्फोर्म है सेंट्रल टीचर एलिगिब्लिटी टेस्ट जिसको देने के बाद मेरिट लिस्ट निकलती है जिसमे अगर आपका मार्कस अच्छे अये तो आपको किसी केंद्रीय विद्यालय में टीचर के पद पर नियुक्त किया जाता है.

3. क्या 12वीं के बाद स्कूल मे पढ़ा सकते है?

12वीं के बाद टीचर बन्ने के लिए प्री-प्राइमरी टीचिंग ट्रेनिंग लेनी होगी फिर आप एल.के.जी, यू.के.जी और नर्सरी के बच्चो को पढ़ा सकते है जिन्हें प्री प्राइमरी टीचर कहा जाता है, अगर प्राइमरी टीचर बनना है 1st से 5th किलास को पढ़ाना है तो ग्रेजुएशन के बाद टीचिंग कोर्स कम्पलीट ,

करना होगा, ट्रेनएड ग्रेजुएट टीचर बनना है 6st से 10th किलास को पढ़ाना है तो ग्रेजुएशन बाद B. ED कोर्स भि करना होगा, पोस्ट ग्रेजुएट टीचर बन्ने के लिए जो 10th, 11th और 12th किलास को पढ़ाते है उन्हें ग्रेजुएशन के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन के बाद B. ED कोर्स कम्पलीट करना होता है.

4. P.hd के बिना प्रोफेसर बनसकते है क्या?

कॉलेज प्रोफेसर के लिए मास्टर डिग्री ज़रूरी है लेकिन यूनिवर्सिटीज मे प्रोफेसर बन्ने के लिए P.hd डिग्री जरूरी है.

5. प्राइवेट स्कूल मे टीचर कैसे बने?

प्राइवेट टीचर बन्ने के लिए आपको 12वीं के बाद अपने इंटरेस्ट के सब्जेक्ट ग्रेजुएशन कम्पलीट करना है फिर B. ED कोर्स यानि बैचलर ऑफ़ एजुकेशन कोर्स करने पर प्राइवेट स्कूल मे टीचर बन्ने के योग्य होजाते है लेकिन उसी सब्जेक्ट मे मास्टर डिग्री भि हासिल करसकते है जिससे जॉब मिलने कि सम्भावना बड़े, इस तरह प्राइवेट टीचर बनते है.

6. टीचर बनना क्या एक अच्चा फैसला है?

अगर आपको इंटरेस्ट है सब्जेक्ट मे और स्टूडेंट को पढ़ाने मे तो आपको टीचर ज़रूर बनना चाहिए, टीचर को इज्ज़त पैसा और दूसरी सुविधाएँ भि मिलती है, हमेशा motivated रहे और बच्चो को अच्चा पढने के लिए और अच्चा काम करने के लिए प्रेरित करते रहे.

निष्कर्ष?

देखिये अगर आपको किसी सब्जेक्ट मे दिचाबी है या आपको उसे पढाना अच्चा लगता है तोही टीचिंग के फील्ड मे आईये वरना करियर बर्बाद हो जायेगा, आपको अपना करियर उसी मे बनाना चाहिए जिसमे आपका इंटरेस्ट हो अगर आप किसी फील्ड मे जाना चाहते है पर इंटरेस्ट नहीं है तो त्रस्त को पैदा करो तभि आप किसी भि फील्ड मे अच्छे से काम करसकते है,

आज हमने जाना के teacher kaise bane, हाई स्कूल टीचर कैसे बने और primary teacher kaise bane, government teacher kaise bane प्रोफेसर कैसे बने, आदि, आशा है के इन सारे सवालों के जवाब मिलगये होंगे.

कुछ पूछना हो तो कमेंट करे, अपने दोस्त या फॅमिली मे इस आर्टिकल को शेयर करे ताके उन्हें भि तो पता चले के Teacher kaise bane, स्टूडेंट के लाइफ से जुड़े ज़रूरी चीज़ों को जानने और समजने के लिए हमारे फ्री टेलीग्राम चैनल को जोइन करे, हमारा ये आर्टिकल ‘Teacher kaise bane’ यहीं समाप्त होता है.

ये आर्टिकल भि पढ़े:

4.3/5 - (15 votes)

Leave a Comment