Patrakar kaise bane या Journalist kaise bane Step-by-Step

क्या अप पत्रकार यानि न्यूज़ रिपोर्टर बनना चाहते है या बनने का सोच रहे है तो आप सहीं जगह अये है, आपको इस आर्टिकल मे पत्रकार के बारेमे एक एक बात कि जानकारी मिलेगी, आज हम जानेंगे के Patrakar kaise bane,

12वीं के बाद News Reporter kaise bane, 12th ke baad ptrakar kaise bane, पत्रकार बनने के लिए कौनसी डिग्री करे और कौनसा कोर्स करे, न्यूज़ रिपोर्टर का करियर स्कोप, पत्रकार बनने के फायदें और सैलरी, आदि.

मीडिया दो चीजों मे divide है एक प्रिंट मीडिया और दूसरा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, प्रिंट मीडिया मे आता है न्यूज़ पेपर, magzine, Tabload, newsletters, journals और books, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया मे आता है इन्टरनेट, रेडियो और टेलेविशन.

12वीं के बाद Patrakar kaise bane?

Step1: सबसे पहले अपना लक्ष एक रखे सिर्फ पत्रकार कोई और चीज़ पर ध्यान ना दे और आपको पत्रकारिता मे इंटरेस्ट होना चाहिए तभि आप एक सफल पत्रकार बनसकते है.

Step2: जौर्नालिस्ट बनने के लिए 10वीं और 12वीं कि पढाई करनी होगी किसी भि स्ट्रीम से चाहे वो आर्ट्स हो, साइंस हो या फिर कॉमर्स हो, लेकिन जर्नलिज्म कि फील्ड के 10वीं और 12वीं मे इंगिलश सब्जेक्ट होना बहुत ज़रूरी है.

Step3: अभ स्टूडेंट को बेचेलोर डिग्री हासिल करनी है जर्नलिज्म मे या फिर मास कम्युनिकेशन मे, ये डिग्री नौकरी के लिए ज़रूरी है,आप किस कोर्स को चुने डिग्री कम्पलीट करने के लिए ये आपको आगे विस्तार से बताया गया है.

Step4: डिग्री करने के लिए आपको अच्छे कॉलेज या यूनिवर्सिटी मे एडमिशन लेना होगा और एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम देना होगा, जो नेशनल लेवल पर भि होते है यूनिवर्सिटी और कॉलेज लेवल पर भि होते है.

Step5: एंट्रेंस एग्जाम के बारेमे मे आगे विस्तार से बताया गया है, एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करने के बाद कॉलेज मे अच्छे से ध्यान दे अपने पढाई और करियर पर.

Step6: ये कोर्स होने पर आप आगे पढना चाहते है तो मास्टर डिग्री कि पढाई करसकते है या फिर किसी न्यूज़ चैनल मे इंटर्नशिप करसकते है.

Step7: इंटर्नशिप इसलिए ज़रूरी है ताके आपको प्रक्टिक्ले नॉलेज पूरी तरीके से मिले, कॉलेज मे जियादा थ्योरी पढाई जाती है और क्या पता आपके काम को देखकर आप जहा इंटर्नशिप कररहे है वहीँ आपकी नौकरी लगजाये.

Step8: इसके बाद आपको नौकरी आसानी से मिल जाएगी.

Journalism मे Career Scope?

आज कल मीडिया/जर्नलिज्म कि बहुत चर्चा होती है, स्टूडेंट को जर्नलिज्म मे दिल्चस्बी आने लगी है, वो भि जानना चाहते है के टीवी न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बने? इस वक़्त देश मे मीडिया एहम रोल निभारहा है,

मीडिया देश मे होरही बुराईयों, क्राइम, अधिकारीयों और गवर्नमेंट के कारपशन को लोगों के बीच लाकर लोगों को उजागर करता है, इसकी वजह से लोग बुरा काम या क्राइम करने से डरते है, इसलिए मीडिया देश का महेत्वपोर्न हिस्सा है, देश के लोगों को निष्पक्ष मीडिया कि ज़रूरत है और देश मे इमानदार और निडर पत्रकार है,

भारत देश जर्नलिज्म के फील्ड मे तीजी से बढ़रहा है, देश मे 9 सौ से जियादा के करीब परमिशन के साथ प्राइवेट न्यूज़ और टेलीविज़न चैनल चलरहे है,

जिसकी वजह से जर्नलिज्म कि फील्ड मे पढाई करने वाले स्टूडेंट के लिए बहुत सारे जॉब के मौके खुले है, इस वक़्त डिजिटल मीडिया, डिजिटल न्यूज़पेपर्स और न्यूज़ ऐप्स के ज़रिये जौर्नालिस्ट अपना करियर को बहुत तेज़ी से आगे लेकर जासकते है,

आज कल बहुत सारे नये टीवी चैनल लौंच हो रहे है ब्रॉडकास्ट कररहे है इसलिए टैलेंटेड और स्किल वाले जौर्नालिस्ट कि डिमांड बढ़रही है, मीडिया मे आप इन चनेलों मे पत्रकार बनसकते है.

पत्रकार कौन होता है?

न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बने

पत्रकार या न्यूज़ रिपोर्टर उसे कहते है जो अपने आस पास के घटनाओं को लोगों के सामने रखता है, एक पत्रकार को किसी से डरना नहीं चाहिए, सच को दीखाने के लिए हिम्मत और सहस होना चाहिए,

पत्रकार सिर्फ वो नहीं है जिसके हाथ मे माइक है, जर्नलिज्म मे बहुत तरह के पत्रकार होते है, कोई स्टोरी रिसर्च करता है कोई एडिटिंग करता है कोई उस स्टोरी को सब के सामने लाता है, पत्रकार वो सभ लोग है जो किसी एक स्टोरी को बनाने मे अपना योगदान देते है,

ये प्रोफेशन मे काम करना आसान नहीं है चुनोतियों से भरा है कियोंकि न्यूज़ को पाने के लिए कभी कभी बहुत मुश्किलें आती है, एक इमानदार, सच बोने वाला और निडर पत्रकार सत्ता मे बैठी सरकार को हिला सकता है.

Journalism Course Eligibility?

  • 10वीं और 12वीं कि पढ़ाई कम्पलीट करे किसी भि स्ट्रीम से कम से कम 50% अंकों के साथ, एससी/एसटी और अरक्षित वर्गों के लिए अंकों मे 5% कि छुट है
  • कुछ डिग्री कॉलेज और यूनिवर्सिटी मे इंग्लिश सब्जेक्ट ज़रूरी है 10वीं और 12वीं मे,
  • बैचलर डिग्री कम्पलीट करने के बाद मास्टर डिग्री करना चाहते है तो इसके लिए जर्नलिज्म या मास कम्युनिकेशन मे कम से कम 50% मार्कस लाने होंगे,
  • इन सभ के अलावा एक पत्रकार मे हिम्मत, निडर, लॉजिकल रीजनिंग, मेहनती जैसे गुण होने चाहिए.

Journalism Entrance Exam?

अलग अलग टॉप रेपुटेड यूनिवर्सिटी अपने लिए एंट्रेंस एग्जाम कंडक्ट करवाती है और यूजी (UG) और पीजी (PG) प्रोग्राम्स के लिए कुछ कॉमन एंट्रेंस एग्जाम है,

  • पीजी प्रोग्राम्स- आईआईएमसी (IIMC), आईपीयू सीइटी, एसीजे, एएमयूइइ, जेएमआईइइइ (JMIEEE), मस्कोम एंट्रेंस एग्जाम,
  • यूजी प्रोग्राम्स- डीयूइटी, आईपी यूसीइटी, एसइटी, एमयू ओएटी (MU OET) एंट्रेंस एग्जाम.

Journalism Courses?

पत्रकार बनने के लिए बैचलर डिग्री ज़रूरी है जर्नलिज्म के किसी भि कोर्स मे, जर्नलिज्म मे मास कम्युनिकेशन या डिप्लोमा कोर्स करसकते है, भारत मे ‘बैचलर डिग्री इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन’ (BJMC) को बहुत पसंद किया जाता है पत्रकार बनने के लिए, स्टूडेंट किसी स्पेसिफिक जॉब के लिए डिप्लोमा या पीजी डिप्लोमा कोर्स करसकते है.

  • बीजीएमसी, बैचलर डिग्री इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन
  • बीए, बैचलर ऑफ़ आर्ट
  • डिप्लोमा
  • पीजी डिप्लोमा
  • बीएससी, बैचलर ऑफ़ साइंस
  • पीजी डिप्लोमा
  • एमए, मास्टर ऑफ़ आर्ट
  • मास्टर इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन.
journalist kaise bane

BJMC (Bachelor of Journalism and Mass Communication)

बीजेएमसी एक तीन साल का अंडरग्रेजुएट कोर्स है, इस कोर्स मे स्टूडेंट को जौनालिस्म के बारेमे बिगिनर से लेकर एडवांस लेवल तक पढाया जाता है,

इस कोर्स मे एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट को 10वीं और 12वीं मे 50% अंक लाने होंगे कसी भि मान्यता प्राप्त इंस्टिट्यूट से,आईपीयू सिइटी (IPU CET) और डीयू (DU) जर्नलिज्म एंट्रेंस एग्जाम है जिसे क्लियर करने के बाद बीजेएमसी कोर्स मे एडमिशन मिलेगा,

भारत के टॉप यूनिवर्सिटी जिसमे बीजेएमसी कोर्स करसकते है आईएमएस नॉएडा, मेवार यूनिवर्सिटी, आईपी यूनिवर्सिटी, बात करे इस कोर्स के फीस कि तो टॉप कॉलेज का एवरेज निकलता है करीब तीन लाख रुपये, इस कोर्स को करने पर एडिटिंग, प्रिंट मीडिया, पब्लिक रिलेशन,अड़वरतैसमेंट, न्यूज़ चैनल मे जॉब मिलसकती है.

BA Journalism

बीए यानि बैचलर ऑफ़ आर्ट्स, ये तीन साल का अंडरग्रेजुएट कोर्स है जिसमे मीडिया इंडस्ट्री और न्यूज़ पर जियादा फोकस किया जाता है, ‘बीए’ कोर्स को 12वीं कि पढाई किसी भि स्ट्रीम मे पूरी करने के बाद करसकते है लेकिन 12वीं मे 50% अंक लाने के बाद, कोर्स मे एडमिशन लेने के लिए मेरिट निकली जाती और कुछ कॉलेज एंट्रेंस एग्जाम से एडमिशन लेते है,

टॉप कॉलेज जो इस कोर्स के लिए है क्राइस्ट यूनिवर्सिटी बैंगलोर, एलपीयू, जेएमआई न्यू देल्ही, चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी, इस कोर्स के फीस कि बात करे हर कॉलेज मे अलग है लेकिन एवरेज 20 हज़ार से एक लाख तक है.

BS.c Multimedia

बीएससी कोर्स एक अंडरग्रेजुएट टेक्निकल डिग्री है इसमे एडमिशन लेनेके लिए 12वीं मे साइंस से पढ़कर 50% अंक लाने होंगे, कोर्स मे एनीमेशन, मल्टीमीडिया और एडिटिंग सिखाई जाती है,

ये तीन साल का कोर्स डीमंडिंग कोर्सेज मेसे एक है इसे पूरा करने के बाद न्यूज़ के पोस्ट प्रोडक्शन मे नौकरी करसकते है, इस कोर्स कि हर कॉलेज मे अलग फीस लेकिन एवरेज फीस कि बात करे तो 50 हज़ार से डेड लाख तक होती है.

PG Diploma Journalism

पीजी डिप्लोमा एक साल का डिप्लोमा कोर्स होता है जिसे ग्रेजुएशन के बाद करते है, इस कोर्स मे स्टूडेंट को जर्नलिज्म के अलग अलग फील्ड कि ट्रेनिंग दी जाती है, पीजी डिप्लोमा कोर्स मे एडमिशन के लिए ग्रेजुएशन मे 50% अंक लाने होंगे और इन मेसे किसी एक एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना होगा जामिया मिल्लिया एंट्रेंस एग्जाम, मनिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ़ कम्युनिकेशन एंट्रेंस एग्जाम,

इंटरनेशनल स्कूल ऑफ़ बिज़नस एंड मीडिया एंट्रेंस एग्जाम, सिम्बायोसिस नेशनल एंट्रेंस एग्जाम, ज़ेवियर इंस्टिट्यूट ऑफ़ कम्युनिकेशन एंट्रेंस एग्जाम, इस कोर्स के लिए टॉप कॉलेज अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, सावित्री बाई फुले यूनिवर्सिटी पुणे, जेएमआई देल्ली, कोर्स कि एवरेज फीस 75 हज़ार से 3 लाख तक हो सक्ति है.

AMA Journalism

एमए जर्नलिज्म यानि मास्टर ऑफ़ आर्ट्स इन जर्नलिज्म, जैसे के आपको पता है ये एक पोस्टग्रेजुएट कोर्स है, जो कैंडिडेट बैचलर डिग्री कीहुई है जर्नलिज्म मे वोहि रिलेटेड फील्ड मे मास्टर डिग्री करसकते है,

एंट्रेंस एग्जाम के अंक पर एडमिशन निर्भर है, एमए के लिए टॉप कॉलेज सिम्बायोसिस इंस्टिट्यूट ऑफ़ मीडिया एंड कम्युनिकेशन,

महात्मा गाँधी मिशन कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन, एमिटी स्कूल ऑफ़ कम्युनिकेशन, पंजाब यूनिवर्सिटी, शारदा यूनिवर्सिटी, एशियाई अकादमी ऑफ़ फिल्म एंड टेलीविज़न. इस कोर्स कि एवरेज फीस 50 हज़ार से साढ़े तीन लाख प्रति वर्ष तक हो सक्ति है.

MJMC Journalism

एमजेएमसी यानि मास्टर्स इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन, ये एक पोस्टग्रेजुएट कोर्स है दो साल का, इस कोर्स मे इन चीज़ों को सिखाया जाता है मगज़ीन, न्यूज़पेपर्स, सिनेमा, रेडियो आदि.

कोर्स मे एडमिशन के लिए स्टूडेंट के पास बैचलर डिग्री होनी चाहिए जर्नलिज्म के किसी भि फील्ड मे जैसे ‘बीजेएमसी’ और कोर्स मे एडमिशन के लिए मेरिट का इस्तेमाल किया जाता है या फिर एंट्रेंस एग्जाम लिया जाता है,

टॉप कॉलेज है भरथिअर यूनिवर्सिटी कोइम्बटोर, महाराजा सियाजिराव यूनिवर्सिटी बरोडा वारोडरा, कोर्स कि एवरेज फीस 50,000 से 3,00,000 तक है.

Journalism मे Diploma?

डिप्लोमा कोर्स इन जर्नलिज्म दो साल का होता है, प्रोफेशनल तरीके से कैसे लिखे न्यूज़पेपर, मैगज़ीनस, न्यूज़ चैनल पर ब्रॉडकास्ट करना, टेलीविज़न. सएडमिशन के लिए मान्यता प्राप्त कॉलेज से 12वीं कि पढ़ाई मे 50% अंक होने चाहिए,

अक्सर स्टूडेंट से टेस्ट लेने के बाद या एंट्रेंस एग्जाम लेने के बाद या फिर कुछ कॉलेज मेरिट के हिसाब से भि एडमिशन लेते है, टॉप कॉलेज जैसे मद्रास क्रिस्चियन कॉलेज चेन्नई, एलएसआर न्यू देल्ही, एशियाई कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज्म, चेन्नई, इस कोर्स कि एवरेज फ़ीस 10 हज़ार से 5 लाख है.

डिप्लोमा कोर्स:

  • एमए जर्नलिज्म (MA In Journalism)
  • एमए मास कम्युनिकेशन (MA In Mass Communication)
  • पीजी डिप्लोमा, ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म
  • पीजी डिप्लोमा टेलीविज़न
  • एग्जीक्यूटिव डिप्लोमा जर्नलिज्म
  • पीजी डिप्लोमा इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन.

भारत के बेस्ट कॉलेज?

कॉलेज मे एडमिशन लेने से पहले ये ज़रूर देखे के जिस कोर्स के लिए आपने कॉलेज चुना क्या उसकी सारि सुविधाएँ मौजूद है या फिर नहीं, कैंपस प्लेसमेंट अच्चा होना चाहिए और प्रक्टिकल के लिए लब्स भि होने चाहिए, चलिए पत्रकार कैसे बने इसकेलिए कॉलेज देखते है,

विदेश के फेमस कॉलेज?

  • यूनिवर्सिटी ऑफ़ ऑक्सफ़ोर्ड, यूके
  • हार्वर्ड यूनिवर्सिटी, यूएसए
  • येल यूनिवर्सिटी, यूएसए
  • यूएलसी, लन्दन
  • स्टनफोर्ड यूनिवर्सिटी, यूएसए
  • मेसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, यूएसए
  • यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफ़ोर्निया, लोस अन्गेलोस, यूएसए
  • लन्दन स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स एंड पोलिटिकल साइंस, यूके.

ज़रूरी Skills?

पत्रकार कैसे बने (Patrakar kaise bane)

  • ये कुछ ज़रूरी स्किल अहि जो एक सफल पत्रकार के पास होते हैं, पत्रकार को भारत मे कम से कम इंग्लिश और हिंदी भाषा अनी चाहिए अच्छी तरीके से, कियोंकि हिंदी पब्लिक के लिए और इंग्लिश इंटरनेशनल लैंग्वेज है इसलिए, बाकी दुसरे लैंग्वेज भि सीख सकते है,
  • एक पत्रकार को जनरल नॉलेज यानि (GK) और करंट अफेयर दोनों मे अच्छी पकड़ होनी चाहिए, पत्रकार को जीके मे अपनी नॉलेज बढ़ाने से बहुत फायदा होता है और करंट अफेयर से न्यूज़ रिपोर्टर हमेशा अपडेट रहते हैं,
  • सबसे ज़रूरी चीज़ कम्युनिकेशन स्किल (Communication Skill) होनी चाहिए कियोंकि न्यूज़ रिपोर्टर को बहुत सारे अलग अलग फील्ड के लोगों से मिलकर इंटरव्यू या बात करना होता है जैसे फिल्ममेकर, एक्टर, राजनेता, ऑफिसियल, आदि और पत्रकार को पढ़े लिखे एडूकेटेड दर्शक देखते, सुनते है,
  • पत्रकार मे लॉजिकल रीजनिंग, सोचने और समजने कि स्किल होनी चाहिए, कब, कौन, कहा और क्या सवाल पूछे ये पता नहीं होता है इसलिए अपने दिमाग को हमेशा हर सवाल के लिए तैयार रखना होता है,
  • लोगों कि बातों को समजकर अपनी बातको आसान और कम शब्दों मे समझाना आना चाहिए, पत्रकार मे हिम्मत और धर्य होना ज़रूरी है,
  • ये भि पत्रकार को पता होना चाहिए, न्यूज़ स्टोरीज, विडियो प्रोडक्शन, टॉपिक रिसर्च, एक्यूरेट इनफार्मेशन, ऑनलाइन पब्लिकेशन, मल्टीमीडिया, एसइओ, लोकल बिज़नस, कंटेंट मार्केटिंग, कुछ पलाटफॉर्म को इस्तेमाल करने आना चाहिए जैसे ट्विटर, इन्स्टाग्राम, फेसबुक आदि.

पत्रकार के प्रकार?

Social Media Journalists

सोशल मीडिया पत्रकारों का काम होता है के दुनियाभर कि खबरों को एखत्ता करके सोशल मीडिया पर अपलोड करे जैसे ट्वीटर, इन्स्ताग्राम, फेसबुक आदि.

Agriculture Journalists

नाम सेहि पता चलगया होगा कि ये क्या काम करते है, एग्रीकल्चर पत्रकार ज़मीन, किसान, फसलों कि न्यूज़ देते है और खेती मे इस्तेमाल होने वली चीज़ों कि बडते और घटते दामों कि न्यूज़ भि देते है.

Civic Journalists

सिविक पत्रकारों का काम होता है के लोगों कि रोज़मर्रा कि समस्याओं को देखना और न्यूज़ छापना ताके उसे सोल्व किया जासके जैसे प्रोटेस्टस कि कवर न्यूज़ स्टोरीज बनाना, ये पत्रकार पब्लिक का इंटरव्यू लेते है उनकी समस्याओं को जानने केलिए, उनके सामाजिक और राजनेतिक विचार जानने के लिए.

Solution Journalists

सलूशन पत्रकार का ये काम होता है के जो न्यूज़रूम से न्यूज़ दीजारही है उसे फैक्टचेक करना सहीं है या गलत है ये जांच करना और उसे ठीक करने के लिए सलूशन देना, इनका काम कंटेंट राइटिंग भि होता है.

Culture Journalists

कल्चर पत्रकारों का काम होता है के अलग अलग जगहों पर होने वाले अलग अलग इवेंट के बारेमे मे जानकारी देना, ये इवेंट्स अक्सर धार्मिक होते है या छेत्रिय होते है या कल्चर बेस्ड होता है.

भारत के पोपुलर पत्रकार?

  • रविश कुमार
  • कारण थापर
  • निधि राज़दान
  • राजदीप सरदेसाई
  • रोहित सरदाना
  • प्रभु चावला
  • अन्न करी
  • राना अय्यूब
  • जिम क्लंसी
  • गाड़ी स्च्वार्त्ज़
  • एंड्रिया मित्चेल्ल.

Journalist कि Salary?

पत्रकार कि सैलरी उसके अनुभव और उसके हुनर पर निर्भर है, एक बिगिनर पत्रकार को 15 हज़ार से 30 हज़ार तक शुरुवात मे सैलरी मिलती है फिर अनुभव होने पर ये एक लाख से पांच लाख तक बढ़सक्ति है,

अगर शुरुवात मेहि किसी बड़े न्यूज़ चैनल के लिए काम करने पर अच्छी सैलरी मिलती है जैसे एनडीटीवी, आजतक, एबीपी न्यूज़, बीबीसि न्यूज़ आदि.

पत्रकार बनने के फायदे?

  • सैलरी- एक एक्सपीरियंस पत्रकार को अनुमानित सैलरी 6 लाख से 8 लाख तक मिलती है जोकि एक ठीक सैलरी है,
  • पत्रकार के लाइफ पर पॉजिटिव इम्पैक्ट पडता है जैसे अलग अलग महूल मे काम करने के मिलता है, छोटे बड़े सेलिब्रिटीज को मिलने का या इंटरव्यू लेने का मौका मिलता है, कुछ भि होजये दुनिया मे कब क्या हो रहाहै ये जानकारी मिलती रहती है,
  • पत्रकार बनने के बाद नौकरी करते हुए भि आपकी आगे कि हायर स्टडीज पूरी करसकते है, मास्टर डिग्री करसकते हाउ और डॉक्टरेट करसकते है.

जॉब फील्ड?

  • पोर्टल्स/वेबसाइट
  • एडवरटाइजिंग एजेंसी
  • पब्लिशिंग हाउसेस
  • न्यूज़पेपर्स
  • रेडियो चैनलस
  • मैगजीन्स
  • एजुकेशनल इंस्टिट्यूट

पत्रकारों के लिए टॉप Recruiters?

  • जी नेटवर्क्स
  • इंडिया टुडे ग्रुप
  • दा हिन्दू
  • दा पीओनीर
  • आउटलुक
  • नेटवर्क 18
  • हिंदुस्तान टाइम्स
  • मलयाला मनोरम

पत्रकार के ज़रूरी काम क्या होते है?

  • पत्रकार का काम होता है के लोगों कि परेशानियों को सरकार तक पहुचाये और ओप्पोज़ीशन कि तरह सरकार से सवाल पूछना,
  • लोकतंत्र का चौता स्तम्ब पत्रकारिता है, इसमें बहुत शक्ति होती है किसी भि बड़े से बड़े समस्या को लोगों और सरकार के सामने रखकर समाधान निकाल सक्ति है,
  • पत्रकार का लक्ष होता है के पब्लिक को देश के राजनेतिक, समाजिक और आम परिवर्तन के बारेमे बताये,
  • लोगों को दुनिया भर मे क्या हो रहा है ये जानना होता है ये बताने के लिए न्यूज़ रिपोर्टर को तय्यारी करनी होती है,
  • न्यूज़ रिपोर्टर का काम होता है के वो अपने नज़दीक होने वली घटनाओं के बारेमे चैनल पर बताये,
  • अपने काम को पूरा करने के लिए एडिटर, प्रेसेंटर, फोटोग्रफेर, रिसर्चर जैसे को-वर्कर के साथ मिलकर काम करना होगा,
  • जर्नलिज्म से डेमोक्रेसी को बचाया और प्रोटेक्ट किया जा सकता है,
  • कोई भि गलत न्यूज़ या न्यूज़ मे मिर्च मसाला दाल कर लोगों को नहीं दिखाना चाहिए,
  • एक पत्रकार को अलग अलग विषयों से न्यूज़ स्टोरी कवर करनी होती है जैसे पोलिटिकल, फाइनेंसियल, एंटरटेनमेंट, मेडिकल, स्पिरिचुअल, क्राइम, स्पोर्ट्स, एजुकेशन, इंफ्रास्ट्रक्चर और टेक्नोलॉज.
  • आज कल बहुत सारे मेगज़ीनेस अलग अलग फील्ड मे बहुत जियादा पब्लिश होरहे है वो भि अलग अलग भाषाओँ मे.

People Also Ask

  1. 1. BJMC और BA दोनों मेसे कौनसा बेस्ट कोर्स है?

    अयसा माना जाता है के बीजेएमसी जर्नलिज्म कि मॉडर्न और प्रोफेशनल डिग्री है और बीए डिग्री मे सब्जेक्ट कमहोते है, बीजेएमसी कोर्स एक अच्छी पसंद हो सक्ति है.

  2. 2. पत्रकार बनने के बाद इंटर्नशिप कहा करे?

    बहुत सारे सोशल मीडिया हाउसेस स्टूडेंट को हायर करते है, इंटर्नशिप होने के बाद सर्टिफिकेट भि देते है.

निष्कर्ष?

पत्रकार बनने के लिए स्टूडेंट को दिल्चस्बी होनी चाहिए तभि अच्छे से पढाई करके अपना करियर पत्रकारिता मे बना सकते है, आज हमने देखा पत्रकार कैसे बने, journalist kaise bane, 12th ke baad Patrakar kaise bane, news reporter kaise bane, आदि.

आशा है आपको सारे सवालों का जवाब मिलगया होगा और भि कुछ पूछना होतो कमेंट ज़रूर करे, अपने दोस्तों को शेयर ज़रूर करे ताके उन्हें भि तो पता चले के Patrakar kaise bane, हमारा ये आर्टिकल ‘Patrakar kaise bane’ यहीं समाप्त होता है.

3.9/5 - (12 votes)

Leave a Comment