Collector Kaise Bane करियर बनाने के लिए एक Complete Guide

किसी भि नौकरी के लिए मेहनत और वक़्त दोनों लगते है खास करके किसी बड़ी पोस्ट के लिए जैसे पायलट, बैंक मेनेजर, साइंटिस्ट, और कलेक्टर के लिए, कलेक्टर कि पोस्ट जिले मे सबसे प्रमुख और इज्ज़तदार पोस्ट है,

इतनी बड़ी पोस्ट को हासिल करने के लिए बहुत सारि पढाई, मेहनत और वक़्त लगता है,

आज हम इस आर्टिकल मे बताने वाले है के collector kaise bane, डिप्टी कलेक्टर कैसे बने, 12वीं के बाद कलेक्टर कैसे बने, कितनी पढाई और खर्चा कितना होता है, कलेक्टर कि सैलरी कितनी होती है,

वेबसाइट पर अप्लाई कैसे करे, जौरी डॉक्यूमेंट कौनसे है, इन सारे सवालों का जवाब हम इस आर्टिकल मे देने वाले है,

स्टूडेंट मेहनत तो करते है लेकिन उन्हें सहीं रास्ता पता नहीं होता एक काम करने के बाद अभ आगे क्या करे इसलिए कलेक्टर बनने के प्रोसेस पूरी तरह से जानने के लिए आर्टिकल को पूरा ज़रूर देखे, चलिए देखते है कलेक्टर कैसे बने?.

Collector kise kehte hai?

कलेक्टर कैसे बने ये जानने से पहले कलेक्टर कौन होता है ये जानले, कलेक्टर शहर का और जिले मे पुरे जिले का प्रमुख अधिकारी होता है जो शहर के लॉ एंड आर्डर को संभालता है, कलेक्टर एक सरकारी ऑफिसर होता है, डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर के अंडर मे बहुत सारे अधिकारी काम करते है, डिस्ट्रिक्ट कलेक्टरों को हर राज्य के हर जिले के लिए चुना जाता है, शहर भरमे कानून व्यवस्ता सहीं से लागु करने के लिए और शहर मे अमन बनाये रखने कि ज़िम्मेदारी कलेक्टर कि होती है.

कलेक्टर का काम क्या होता है?

कलेक्टर कैसे बने ये जानने से पहले कलेक्टर का काम क्या होता है ये जाने, कलेक्टर के बहुत सारे काम होते है लेकिन हम कुछ ज़रूरी काम बताने वाले है,

  • कलेक्टर ज़मीन कि कीमतों को है,
  • ज़मीन से जुड़े सारे कागजात और र्कोर्ड्स को संभाल के रखने का काम होता है,
  • प्रकृतिक आपदा जैसे जालजाला, बाड, भूकंप और महामारी से लोगों को बचने का काम होता है,
  • लड़ाई, फसाद, दंगों के समय सुरक्षा प्रदान करने का काम होता है,
  • केंद्र सरकार कि जोभि योजना होती है उन्हें सहीं से लोगों तक पोहचना और योजना लागु करने का काम होता है,
  • खेती के लिए लोन देने का काम होता है,
  • शहर कि प्लानिंग सेंटर मे कलेक्टर प्रमुख होता है, चलिए अभ जानते है 12वीं के बाद कलेक्टर कैसे बने?

12वीं के बाद कलेक्टर कैसे बने?

Step1: 10वीं और 12वीं किसी भि स्ट्रीम से कम्पलीट करना है.

Step2: अभ किसी भि मान्यता प्राप्त कॉलेज या यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन कि डिग्री हासिल करनी है, ग्रेजुएशन किसी भि स्ट्रीम से करसकते है.

Step3: ग्रेजुएशन होने के बाद या ग्रेजुएशन के आखरी साल मे कलेक्टर बनने के लिए सि.एस.इ एग्जाम देना होगा जिसका फुल फॉर्म है सिविल सर्विस एग्जामिनेशन.

Step4: इस एग्जाम को पुरे देश भर मे यूपीएससी (UPSC) के दुअरा कंडक्ट किया जाता है.

Step5: एग्जाम देने के लिए उम्र 21 से 32 साल के बीच होनी चाहिए.

Step6: एग्जाम के बाद इंटरव्यू लिया जायेगा, इंटरव्यू सफल होने पर ट्रेनिंग के लिए लबसना (LABASNAA) यानि लाल बहादुर शास्त्री नेशनल अकादमी ऑफ़ एडमिनिस्ट्रेशन भेजा जायेगा.

Step7: ट्रेनिंग के बाद कैंडिडेट कि रैंकिंग के हिसाब से पद दिए जाते है जैसे आईएएस (IAS) डिप्टी कलेक्टर, कलेक्टर आदि, या फिर कैंडिडेट को IAS बनाया जाता है जिसके बाद प्रमोशन होने पर कलेक्टर बनते है.

Step8: आईएएस का पद मिलने पर कैंडिडेट को दो तीन प्रमोशन और कुछ साल का एक्सपीरियंस होने पर कलेक्टर बना दिया जाता है.

Collector बनने के लिए Eligibility?

[2022] कलेक्टर कैसे बने हिंदी (collector kaise bane)

कुछ कैंडिडेट बिना योग्यता कि जानकारी के अप्लाई करते है फिर रिजेक्ट होने के बाद जानकारी जुटाते है इसलिए अप्लाई करने से पहले ये पता होना चाहिए कलेक्टर बन्ने के लिए योग्यताएँ क्या है, कलेक्टर कैसे बने इसके लिए योग्यता जाने,

  • कैंडिडेट को किसी भि स्ट्रीम मे ग्रेजुएशन करने कि ज़रूरत है, ग्रेजुएशन के बाद या ग्रेजुएशन के आखरी साल मे कलेक्टर बन्ने के लिए एग्जाम के लिए अप्लाई करसकते है,
  • अप्लाई करने के लिए कैंडिडेट का इंडियन सिटीजन होना ज़रूरी है,
  • अप्लाई करते वक़्त कैंडिडेट कि उम्र कम से कम 21 साल होनी चाहिए और ज्यादा से जियादा 32,
  • आरक्षित वर्ग के लिए उम्र सीमा मे छुट दी गयी है,
  • कैंडिडेट को कोई भि जानलेवा बीमारी नहीं होनी चाहिए,
  • इन्सारे चीजों को फुलफिल करने के बादहि कैंडिडेट एग्जाम के लिए अप्लाई करसकते है,

उम्र

जनरल केटेगरी और आरक्षित जाति कि उम्र सीमा कितनी ये भि जानना ज़रूरी है कियोंकि आगे उम्र रूल के हिसाब से नहीं होगी तो कैंडिडेट का एप्लीकेशन रिजेक्ट होजायेगा, कलेक्टर कैसे बने इसके लिए उम्र जाने,

  • गेनरल केटेगरी को कोई भि सुविधा नहीं डी गयी है, जो कैंडिडेट जनरल केटेगरी मे आते है उनकी उम्र 21 साल से 32 साल के बीच मे होनी चाहिए,
  • जो कैंडिडेट ओबीसी श्रेणी मे आते है उनकि उम्र 21 से 32 के बीच होनी चाहिए लेकिन ओबीसी श्रेणी के लिए 3 साल कि छुट देने का प्रोविशन (provision) है,
  • जो कैंडिडेट एससी एससी श्रेणी मे आते है उनके लिए भि उम्र सीमा 21 से 32 हि है लेकिन इन्हें भि पांच साल कि छुट देने का प्रोविशनहै,

ग्रेजुएशन के बाद जब कभी भि यूपीएससी के दुअरा भर्तियाँ निकली जाती है तो कैंडिडेट को अप्लाई करना होता है, यूपीएससी के ऑफिसियल वेबसाइट पर फॉर्म भरना होता है, कलेक्टर कैसे बने इसके लिए फॉर्म कैसे भरे ये जाने.

Collector बनने के लिए Apply kaise kare?

  1. ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए सबसे पहले आपको को यूपीएससी के वेबसाइट के होम पेज पर जाना है.
  2. यहाँ आपको ‘एग्जामिनेशन’ का आप्शन दिख्गा इसपर क्लिक करना है, अभ बहुत सारे आप्शन मेसे ‘अप्लाई ऑनलाइन’ आप्शन पर क्कलिक रना है.
  3. इतना करने के बाद आपको ‘ऑनलाइन एग्जामिनेशन फॉर वेरियस एग्जामिनेशन’ का आप्शन दिखाई देगा इसपर क्लिक करना है.
  4. अभ आपको ‘सिविल सर्विस एग्जामिनेशन” के आप्शन पर क्लिक करना है.
  5. आखिर मे ‘स्टार्ट आईएएस रजिस्ट्रेशन विथ पार्ट वन’ का आप्शन दिखेगा इसपर क्लिक करे, अभ यहाँ आपको अप्लाई करने के लिए एप्लीकेशन मिलेगा, यहाँ पर पूछे गये सभि पर्सनल जानकारी को सहीं से भरे वरना एप्लीकेशन अस्वीकार भि किया जायेगा.
  6. फॉर्म भरने के बाद कुछ ज़रूरी डॉक्यूमेंट प्रूफ अपलोड करना होता है, फिरसे एक बार अच्छे से फॉर्म को पढ़े कहीं कोई चीज़ छुट गयी या गलत डालदी हो, रिचेच्क के बाद देक्लेरेशन एक्सेप्ट का आप्शन पर क्लिक करके फॉर्म को सबमिट करना है.

कलेक्टर बनने के लिए ज़रूरी Document?

एलिगिबिलिटी - Perfectalex.in
Collector kaise bane?

फॉर्म फिल करते समय जो डॉक्यूमेंट या प्रूफ देना होता है उनके बारेमे जानेंगे, फॉर्म फिल करने से पहले आपको पता होना चाहिए कौनसे डॉक्यूमेंट ज़रूरी है, बिना डॉक्यूमेंट एप्लीकेशन एक्सेप्ट हि नहीं होगा, कलेक्टर कैसे बने? इसके लिए डॉक्यूमेंट ज़रूरी है,

  • पहचान प्रमाण पात्र होना ज़रूरी है कोई भि
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाती प्रमाण पत्र
  • ग्रेजुएशन कम्पलीट होने का प्रूफ यानि मार्कशीट,
  • दो छुटे छुटे पासपोर्ट साइज़ फोटो भि,
  • आपका एक मोबाइल नंबर और जीमेल ईडी भि चाहिए,
  • आपके अस्ताक्षर (signature) और थम्ब इम्प्रेशन (thumb impresion).

UPSC kya hai?

UPSC यानि ‘यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन’ एक सरकारी संस्था है जो पुरे देश मे बड़े बड़े पदों के लिए एग्जाम कंडक्ट करती है, हमारे संविधान मे यूपीएससी को पॉवर डी गयी है,

अगर किसी को भि सरकारी नौकरी मे बड़े पद को हासिल करना है तो उसे यूपीएससी के कंडक्ट किये गये एग्जाम को क्लियर करना होगा, यूपीएससी के एग्जाम मे तीन स्टेज होते है, कलेक्टर कैसे बने इसकेलिए एग्जाम के स्टेज कौन से है देखे.

ये भि पढ़े- यूपीएससी क्या है?

Preliminary

यूपीएससी एग्जाम के तीन पार्ट मे पहला पार्ट है प्रेलिमिनारी एग्जाम, इस एग्जाम मे दो पेपर होते है दोनों दो सौ दो सौ यानि कुल 400 अंक के होते है,

पहला पेपर जनरल स्टडीज टेस्ट पर होता है और दूर सिविल सर्विसेज अपटीटुद टेस्ट पर होता है, इन सारे सवालों के चार विकल्प होते है, इसको क्लियर करे बिना आगे का मैन्स एग्जाम नहीं दे सकते.

Mains

दूसरा एग्जाम जो बहुत ज़रूरी और कठिन होता है, ये एग्जाम के अंक अच्छे लाने पर हि इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है, इस एग्जाम मे कुल 9 पेपर लिए जाते है,

इन 9 पेपर के दो पार्ट है क्वालीफाइंग और मेरिट पेपर, क्वालीफाइंग मे दो पेपर होते है दोनों तीन सौ तीन सौ मार्क्स के, मेरिट मे 7 पेपर है हर पेपर 250 मार्कस है यानि टोटल 7 पेपर्स 1750 मार्क्स के है, बहुत से स्टूडेंट इस एग्जाम को क्लियर नहीं करपाते इसे क्लियर करने के बाद हि इंटरव्यू के लिए बुलाया जायेगा.

Interview

पहले एग्जाम और मैन्स एग्जाम को क्लियर करने के बाद कैंडिडेट को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है, इंटरव्यू मे कैंडिडेट के दिमाग को समजने कि कोशिश कि जाती है,

सामने स्धिकारी सवाल पूछते है कैंडिडेट को सोच समज कर जवाब सहीं लहजे मे देना होता है, इंटरव्यू मे सफल होने पर IAS बनने कि ट्रेनिंग के लिए भेजा LBASNAA भेजा जाता है, प्रमोशन के बाद डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर बनजाते है.

जिला कलेक्टर कैसे बने, डिप्टी कलेक्टर कैसे बने या collector kaise bane इसके लिए आपको ये तीनो स्टेज पार करना होगा.

कलेक्टर बनने के लिए Training?

डिप्टी कलेक्टर कैसे बने 2022

यूपीएससी का सिविल सर्विस एग्जाम देने के बाद कैंडिडेट को ट्रेनिंग के लिए LBASNAA यानि लाल बहादुर शास्त्री नेशनल अकादमी ऑफ़ एडमिनिस्ट्रेशन भेजा जाता है,

अभ आप एक आईएएस ऑफिसर है दो-तीन प्रमोशन के बाद और कुछ साल का अनुभव हासिल करने के बाधी डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर बना जाता है, हर आईएएस कलेक्टर नहीं बनता है.

कौन कितनी बार एग्जाम दे सकते है?

यूपीएससी का ये सिविल सर्विस एग्जाम भारत के सबसे कठिन परीक्षाओं मेसे एक है, इसलिए कुछ स्टूडेंट इसे एक या दो बार एग्जाम देने पर भि क्लियर नहीं कर पाते है,

इसलिए कौन कितनी दफा एग्जाम दे सकता है ये जानना ज़रूरी है, कलेक्टर कैसे बने इसके लिए कितनी बार एग्जाम दे सकते ये जाने,

  • जनरल केटेगरी का कैंडिडेट 32 साल कि उम्र तक 6 बार एग्जाम दे सकता है,
  • ओबीसी श्रेणी के कैंडिडेट 35 साल कि उम्र तक 9 बार एग्जाम दे सकते है,
  • एससी/एसटी श्रेणी के कैंडिडेट 37 साल कि उम्र तक जितनी दफा चाहे उन्ती दफा एग्जाम दे सकते है,
  • जनरल केटेगरी के विकलांग कैंडिडेट 42 साल कि उम्र तक 9 बार एग्जाम दे सकते है,

कलेक्टर बनने के बाद Salary?

कैंडिडेट इतना अपना वक़्त लगाके इतनी मेहनत करता है तो उसके लिए सैलरी भि अच्छी होनी चाहिए कैंडिडेट कि चलिए देखते है, पहले जब कलेक्टर जोइन होता है तो शुरुवात मे सैलरी 56 हज़ार महिना होटी है

फिर आगे बढ़ते बढ़ते कलेक्टर जितना एक्सपीरियंस होता है सलरी बढती है और 2 लाख 50 हज़ार तक बढ़ सक्ति है, सैलरी के अलावा भि कलेक्टर को और भि बहुर सारे सुविधाएं मिलती है

जैसे जिस जगह पोस्टिंग होती है वहां कलेक्टर को रहने के लिए बंगला या घर दिया जाता है, घर के काम के लिए सर्वेंट भि दिए जाते है और साथ मे ट्रेवल के लिए एक गाड़ी डी जाती है जिसका एक ड्राईवर भि होता है, कलेक्टर के बिजली बिल और टेलीफ़ोन बिल भि फ्री होते है, इन्सारे सुविधाओं का खर्चा सरकार हि उठाती है.

कलेक्टर कि तय्यारी के लिए ज़रूरी टिप्स?

  • कलेक्टर कैसे बने? ये तो जान लिया, कलेक्टर बन्ने के लिए पढाई बहुत करनी पड़ती है कियोंकि कॉम्पेटीशन बहुत है पढाई कौनसी करे इसके बारेमे जानते है,
  • जनरल नॉलेज और करंट अफेयर मे खुदको को मजबूत करे जियादा ध्यांदे, हर रोज़ न्यूज़पेपर पढ़ते है,
  • अपने दोस्त या किसी और से कुशन पेपर बनवाए फिर उसे सोल्व करने कि कोशिश करे, पिछले कुशन पेपर और सैंपल पेपर सभ इखट्टा करे और उसे खुदसे सोल्व करे सारे जवाब ढूंढे और जो ना मिले तो उसे किताब से या इन्टरनेट से सीखे,
  • सेल्फ स्टडी करते रहे, होसके तो सवाल जवाब के कोम्पेटीशन मे भागले, खुदपर भरोसा रखे और अपना कॉंफिडेंट बढ़ाये किसी भि सवाल का जवाब कॉंफिडेंट से दे,
  • अटक अटक कर बात मत करे, बात करते वक़्त शर्मना छोड़े, कलेक्टर कैसे बने इसके लिए in चीजों का ज़रूर ध्यान रखे, कलेक्टर कैसे बने इसके लिए ये थे कुछ ज़रूरी टिप्स.

People Also Ask

  1. 1. कलेक्टर बनने मे कितना वक़्त लगता है?

    कलेक्टर कैसे बने? इसके लिए वक़्त तो लगता है, 12वीं के बाद किसी भि स्ट्रीम मे ग्रेजुएशन करने के लिए तीन साल लगते है, अभ एग्जाम पहली बार मे क्लियर करने के 18 महीने ट्रेनिंग के लिए जाते है, अभ कैंडिडेट आईएएस (IAS) है प्रमोशन होने के बाद एसडीएम (SDM) एक,दो या तीन साल फिर डीएम फिर डेपुटी कलेक्टर, कोल्लेटर मोटा मति कहें तो यूपीएससी एग्जाम क्लियर करने के बाद 4-5 साल लगते है कुछ डिस्ट्रिक्ट मे 3 भि लग्सकते है और 6 भि.

  2. 2. कलेक्टर बनने मे कितना खर्चा/पैसा लगता है?

    हर किसी को अलग अलग खर्चा लगता है अगर अनुमानित पैसों कि बात करे तो एक से दो लाख रुपये लगते है, वैसे भि आईएएस बनने के बाद कलेक्टर बनते हि एक हि साल मे आपके सारे पैसे आजयेंगे.

3. IAS और कलेक्टर मे क्या अंतर है?

यूपीएससी क्लियर करने के बाद आईएएस ऑफिसर बना जाता है और आईएएस को इंडियन गवर्नमेंट के policies को सहीं लागु करना और उसे बनाये रखने का काम करना होता है, आईएएस को दो तीन प्रमोशन मिलने पर और कुछ साल का एक्सपीरियंस होने पर डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर बना दिया जाता है,

डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर बनने के लिए भि पहले आईएएस ऑफिसर बनना होता है फिर प्रमोशन होने के बाद डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर बना जाता है, हर आईएएस ऑफिसर कलेक्टर नहीं बनता, कलेक्टर का काम होता है अपने जिले मे लॉ एंड आर्डर को बनाये रखना और कोई भि दंगा फसाद ना हो ये सुनिक्षित करता है.

निष्कर्ष?

कलेक्टर कैसे बने ये जान लिया होगा, कलेक्टर बनने आपका वक़्त और पढाई मे मेहनत बहुत लगती है, आपको कुछ सालों कि मेहनत करने के बाद एक अच्चा फल मिल सकता है, यूपीएससी कि तय्यारी अच्छी करे और रैंक अच्चा लाये,

यूपीएससी के लिए मेहनत तभि करसकते है जब आपको इसमें इंटरेस्ट हो दिल्चस्बी हो और अगर नहीं है तो दिल्चस्बी को पैदा करिए बिना इंटरेस्ट के जियादा देर तक ध्यान किसी भि जगह नहीं लगता, याफिर उस फील्ड मे करियर बनायीं ये जिस फील्ड मे आपको इंटरेस्ट हो,

आज हमने सीखा है के collector kaise bane, 12वीं के बाद कलेक्टर कैसे बने, डिप्टी कलेक्टर कैसे बने या jila collector kaise bane,

आशा है के आपको इन्सारे सवालों का जवाब मिलगया होगा, कुछ पूछना हो या कुछ कहना होतो कमेंट ज़रूर करे, अपनी फॅमिली या दोस्तों को ये आर्टिकल शेयर ज़रूर करे ताके लोगों को भि तो पता चले कलेक्टर कैसे बने.

4.1/5 - (13 votes)

Leave a Comment